UP Dhan Kharid Registration 2023 रजिस्ट्रेशन यूपी धान ऑनलाइन Apply Online

Uttar Pradesh Dhan Kharid Kisan Registration Online 2022-23 @ eproc.up.gov.in यूपी धान ऑनलाइन पंजीकरण 20222023 UP Dhan Kharid Registration Apply Online

UP Dhan Kharid Registration 2023– उत्तर प्रदेश सरकार ने धान खरीद की योजना को ऑनलाइन माध्यम से कराने के लिए यूपी धान ऑनलाइन पंजीकरण 2023 योजना शुरू कर दी गई है|  इसमें राज्य के सभी किसान जिन्होंने धान की बुवाई कर चुके हैं या करेंगे| खाद्य और रसद विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकते हैं| किसानों को अपना धान सरकार को बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण (UP Dhan Kharid Registration 2023)  के तरीके को पूरा करना होगा|

सरकार के माध्यम से धान के मूल्यों को तय करने और उससे संबंधित नीति को बनाने के लिए कैबिनेट बाय सरकुलेशन से इजाजत लेने की जरूरत होती है| इस योजना के तहत क्रय  केंद्र को बनाया जाएगा और पंजीकरण करने वाले किसानों को सरकारी खरीद का मूल्य सीधे उनके बैंक खातों में जाएगा | इस योजना के अंतर्गत किसान को अपना आधार कार्ड संकलन कराना होगा|

UP Dhan Kharid Registration 2023

Registration UP Dhan Kharid 2023

यूपी धान ऑनलाइन पंजीकरण  योजना- उत्तर प्रदेश राज्य में खाद्य एवं रसद विभाग के माध्यम  क्रय केंद्रों में धान की खरीदारी अक्टूबर से लेकर फरवरी महीने तक होती है| इस साल  धान का मूल्य सरकार ने ₹2040 प्रति कुंतल रखा है| धान की बिक्री करने के लिए खाद्य विभाग के ऑपरेटर पर पंजीकृत की शुरुआत अगस्त माह से हो चुकी है| अब cखरीद के लिए सरकारी केंद्रों पर पंजीकरण ओटीपी के द्वारा कर सकते हैं| क्रय केंद्रों से अब किसानों को गंदा और गीला धान वापिस नहीं दिया जाएगा| सभी केंद्रों पर धान के नमूने रखे गए हैं|

किसानों को धान को सुखाने को साफ सुथरा रखने के लिए अब बहुत समय मिलेगा| अगर कोई किसान यूपी में धान की खेती से संबंधित जो भी जानकारी चाहता है| वह यूपी धान ऑनलाइन पंजीकरण योजना लेख को ध्यान से पढ़े और इसका तरीका जान ले|

यूपी धान ऑनलाइन पंजीकरण 2023 Process

लेख का विषय  UP Dhan Kharid Registration
किसके द्वारा  उत्तर प्रदेश सरकार
विभाग  खाद्य एवं रसद विभाग
लाभार्थी  उत्तर प्रदेश के किसान
मध्यम  ऑनलाइन
UP  Dhan Kharid Registration  अगस्त महीने से शुरू अगस्त महीने से शुरू
आधिकारिक वेबसाइट  eproc.up.gov.in

उद्देश्य UP Dhan Kharid Registration 2023

यूपी धान ऑनलाइन पंजीकरण योजना- केंद्र सरकार ने साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का संकल्प लिया है| केंद्र और प्रदेश की सरकारें अपने अधिकार क्षेत्र के अनुसार कृषि से संबंधित योजनाएं तैयार कर रही है|  इसी योजना के अंतर्गत किसान अपनी फसल का सही मूल्य निर्धारित कर ऑनलाइन द्वारा फसल खरीद का  काम पूरा कर सकते है|धान की खरीद को किसान की लागत से कम से कम डेढ़ गुना तक रखा जाएगा| जिससे किसानों की आय में सुधार होगा धान खरीद योजना को ऑनलाइन करने की इजाजत कई राज्यों की सरकार ने दी है| इसमें  यूपी भी एक है| पंजीकरण करने के लिए अब किसानों को ऑनलाइन  पोर्टल से फसल बेचने के लिए मंडी या किसी अन्य व्यक्ति के पास  भागदौड़ करने की जरूरत नहीं रहेगी|

यूपी धान खरीद पंजीकरण अहम मुख्य दस्तावेज

सबसे पहले आवेदन प्रपत्र के साथ निम्र  दस्तावेज  केंद्र में लेकर जाएं-

  • किसान का आधार कार्ड \पहचान पत्र
  • एक नई पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक पासबुक के पहले पेज की कॉपी (जिसमें खाते का विवरण हो)
  • कंप्यूटराइज खतौनी(जोतबही\ खाता संख्या के साथ)

UP Dhan Kharid Registration 2023 Main Points

  • पंजीकरण के लिए किसानों को सभी बिंदुओं का पालन करना होगा|
  • ऑनलाइन किसान पंजीकरण से पहले ‘स्टेप 1. पंजीकरण प्रारूप’ का A4 आकार का प्रिंट आउट ले ले और उसको भर ले|
  • आवेदन पत्र के साथ ऊपर बताए गए प्रमाण पत्रों की सॉफ्ट कॉपी (फोटोज) की व्यवस्था कर ले|
  • ऑनलाइन पंजीकरण में फसल (धान) के लिए प्रयोग की जाने वाली सभी भूमि की जानकारी देनी होगी|
  • भूमि की जानकारी देते समय खतौनी\खाता नंबर, प्लॉट/ खसरा नंबर\ खेत का रकबा (हेक्टेयर) में और फसल धान का (हेक्टेयर)  में देना होगा|
  • किसान को अपना आधार कार्ड संख्या अवश्य शामिल करनी होगी|
  • ‘स्टेप 1. पंजीकरण प्रारूप को भर लेने के बाद स्टेप 2.’ पंजीकरण पर विकल्प के माध्यम से  ऑनलाइन आवेदन पूरा कर ले|
  • ऑनलाइन आवेदन करने के पश्चात अपनी पंजीकरण संख्या को अपने पास लिखकर सुरक्षित   कर ले|
  • स्टेप 3 पंजीकृत ड्राफ्ट के द्वारा आवेदन पत्र का प्रिंट आउट ले ले|
  • ऑनलाइन पंजीकरण में दी गई सभी जानकारियों को एक बार अच्छी तरीके से जांच कर ले|
  • आवेदक पंजीकरण संख्या और मोबाइल नंबर की सहायता से  फिर से ड्राफ्ट प्रिंट कर सकते हैं|
  • आवेदन में किसी भी तरह के संशोधन की जरूरत होने पर पंजीकरण संख्या मोबाइल नंबर की सहायता से संशोधन कर सकते हैं|
  • आवेदन करते समय अगर कोई गलती पाई जाती है तो “स्टेप 5. पंजीकरण”  विकल्प के मध्यम से आवेदन की लॉकिंग करें|
  • और यह जरूर जान ले की आवेदन लॉक होने पर किसी भी प्रकार का कोई संशोधन नहीं हो पाएगा|
  • आवेदन लॉक होने के बाद “स्टेप्स 6. पंजीकरण अंतिम प्रिंट” विकल्प से आवेदन का प्रिंट आउट ले ले|
  • आवेदन लॉक ना होने की स्थिति में किसान का पंजीकरण स्वीकार नहीं हो पाएगा

UP Dhan Kharid Registration 2023 ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले अपने ब्राउज़र पर खाद्य और रसद विभाग यूपी की एक करिए प्रणाली की आधिकारिक वेबसाइट को https://eproc.up.gov.in/Uparjan/Home_Reg.aspx को खोल ले|
रजिस्ट्रेशन यूपी धान ऑनलाइन Apply Online
  • वेब पोर्टल के होम पेज पर “धान खरीद हेतु किसान पंजीकरण” विकल्प को चुन ले|
 रजिस्ट्रेशन यूपी धान ऑनलाइन Apply Online
  • अब आपके वेब पेज पर 6 स्टेप दिखाई देंगे इन सभी स्टाफ को पूरा करने के बाद ही पंजीकरण का तरीका पूरा होगा|
  • सबसे पहले हर एक किसान के लिए पंजीकरण संबंधी नियम को पढ़ना बहुत जरूरी है इन नियम को आखिर से लेकर शुरू तक जरूर पढ़ें|
UP Dhan Kharid Registration Apply Online
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक व्यक्तिगत जानकारी के लिए धान करिए किसान नवीन पंजीकरण पर पत्र दिखाई देगा| इसमें सभी जानकारी भरने के बाद OTP प्राप्त करें और बटन को दबा दें|
UP Dhan Kharid Registration Apply Online
  • बटन दबाने के पश्चात आधार से जुड़े नंबर पर ओटीपी प्राप्त होगा| ओटीपी को बॉक्स में टाइप करके सत्यापित करें और बटन दबा दें|

  • इस बात पर जरूर ध्यान देगी ओटीपी को प्राप्त करने की संख्या तीन निर्धारित की गई है इसलिए ओटीपी की टाइपिंग ध्यान से करें|
  • आप अपने मोबाइल नंबर पर 24 घंटे में तीन बार ओटीपी को प्राप्त कर सकते हैं|
  • ओटीपी सत्यापन की परेशानी से बचने के लिए किसान जन सेवा केंद्र में जाकर आधार से मोबाइल नंबर अपडेट करवा ले|
  • किसान पंजीकरण के सत्यापन की पूरी प्रक्रिया को उप जिला अधिकारी\एसडीएम लॉगिन से होती है|
  • पंजीकरण का तरीका पूरे होने पर किसान को एक पावती पत्र प्रदान किया जाएगा| इसको भविष्य में संभाल कर रखें|
यूपी धान खरीद किसान योजना ऑनलाइन

किसान इस बात का विशेष ध्यान रखें अपने आधार कार्ड में लिखे नाम, लिंग और आधार संख्या को पंजीकरण करते समय सही तरीके से टाइप कर लें इसमें धान खरीद का पंजीकरण बिना किसी रूकावट के सफलतापूर्वक हो जाएगा|

लाभयूपी धान खरीद किसान योजना ऑनलाइन

पहले समय में किसानों को बहुत ही ज्यादा मेहनत से फसल को उगाने के बाद अपने अनाज की सही कीमत लेने के लिए दूर-दूर मंडियों में जाने की जरूरत पड़ती थी| लेकिन ऑनलाइन प्रक्रिया आने के बाद अब किसी भी किसान को धान बेचने के लिए अन्य स्थानों पर भटकना नहीं पड़ेगा| ऑनलाइन पंजीकृत किसान अब घर बैठे ही अपने ग्राहक को ढूंढ पाएंगे| इस योजना से जुड़ने वाले किसानों को फसल की कीमत अच्छी मिलेगी और बेकार का   श्रम और समय बर्बाद नहीं हो पाएगा|

वेब पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराएं

अगर ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया के तहत कोई भी किसान किसी भी प्रकार की शिकायत करने की जरूरत समझता है तो आधिकारिक वेबसाइट पर अपनी शिकायत दर्ज कर सकता है इसके लिए नीचे बताए गए बंधुओं को पूरा करें-

  • सर्वप्रथम FCS अधिकारिक वेबसाइट http://fcs.up.gov.in/ को ओपन करें|
  • उसके बाद होम पेज पर “ऑनलाइन शिकायत करें” विकल्प को चुन लेना है|
  • अब आपके सामने नया वेब पेज खुल कर आ जाएगा उसके नीचे की और शिकायत दर्ज करें विकल्प को चुनना है
  • आपको एक ऑनलाइन शिकायत का प्रारूप मिलेगा इसमें किसान को अपनी व्यक्तिगत जानकारी देने के बाद अपनी शिकायत को निर्धारित में टाइप कर लेनी है|
यूपी धान खरीद किसान योजना ऑनलाइन
  • आपके द्वारा दी गई सभी जानकारी और शिकायत को एक बार जरूर ध्यान से पढ़ ले और कैप्चा कोड को टाइप करने के बाद दर्ज करें बटन को दबा दें|

FSC वेब पोर्टल पर शिकायत Check Status

  • अगर किसान के द्वारा वेब पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने की कार्रवाई की गई है तो ऑनलाइन शिकायत की जांच अवश्य करनी चाहिए, इसका तरीका इस प्रकार है-
  • सबसे पहले एफएससी के अधिकारी वेबसाइट पर जाना है|
  • इसके बाद वेबसाइट के होम पेज पर “शिकायत करने” के विकल्प को चुनें|
  • इसके बाद एक नई विंडो पेज पर “शिकायत की वर्तमान स्थिति” के विकल्प  को चुने|
  • इसके बाद नई विंडो में शिकायत संख्या को बॉक्स में टाइप करने के बाद “Show” बटन को दबा दें|
  • सही शिकायत संख्या होने पर आपको स्क्रीन पर शिकायत की वर्तमान स्थिति दिख जाएगी|

UP Dhan Kharid Registration 2023 Related Question

धान खरीद के लिए यूपी सरकार ने कौन सा पोर्टल बनाया है?

किसानों को धान बेचने के काम में मदद देने के लिए खाद्य रसद विभाग उत्तर प्रदेश ई-प्रणाली नाम से वेबपोर्टल तैयार किया गया है|

ऑनलाइन पंजीकरण के बाद किसानों को क्या लाभ मिलेगा?

अगर कोई किसान ऑनलाइन पंजीकरण करता है तो उसको अपनी फसल बेचने के लिए अधिक दौड़ भाग नहीं करनी पड़ेगी और अपनी फसल का सही मूल्य भी मिल पाएगा|

केंद्र में एक किसान से कितनी मात्रा की धान की खरीदारी होगी?

कोई भी किसान टोकन में 10 तारीख से 2 दिन    पहले टोकन खारिज करके नया टोकन ले सकता है|

वेब पोर्टल के पंजीकरण करते समय किसी भी प्रकार की समस्या आने पर हेल्पलाइन नंबर क्या है?

अगर किसी भी किसान को ऑनलाइन पंजीकरण से संबंधित को भी समस्या आ रही है तो वह टोल फ्री नंबर 18001800150 पर संपर्क करके सहायता ले सकता है|

Leave a Comment